LITERATURE

POEM  / OFF BEAT NEWS

Black

You’ll find me in the paths, with no direction or destination. You’ll find me laughing all the way, probably my tear gland is absent. I’ll be shining from a distance, and you’ll want to befriend [...]

सोच रहा था मैं …

आँखें  सूखी  थी, मन  रोता  रहा किस्मत  भूखी, मैं  सोता  रहा मन  तो  उठने  को  कहता  रहा, जरूर  आलस्य  ताकतवर  होगा   सोच  रहा  था  मैं क्षण  दो  बाद  उठूँ, फिर  भी  पैरों  तले  ज़मीन  सिर  पे [...]

IDEALISTIC INDIA

I adore my country not only because here I was born, but for all the benignancies that it has shown. It arrests the assorted assets from aesthetic nature to aplomb dusk and dawn. It’s geniality [...]

Wazir: A review

The first time I saw the trailer of Wazir (around 2 months back), I was blown away by the brilliant cinematography, music, creative team and of course the cast. I’m not in any way implying that [...]

चलते – चलते…

यूँ  ही  चलते  चलते  मै  भूल  जाता हूँ कहाँ  जाना, किसे  पाना  बस  यादें  तेरी  बटोर  मै  लाता  हूँ तुम्हें  चाहता  कि  चारों  ओर  तुम्हें  मै  पाता  हूँ पास  जाकर  न  होने  पे  तेरे,  खुद  को [...]

गुजरे पल

उन गुजरे पलो मे जीकर, आज को जीये जा रहा था मैं। कल के बीते सपनो मे रहकर, आज को सपना बना रहा था मैं।। उन निर्मल हस्तो को, अपने समक्ष पा रहा था मैं। उनसे बने अमृत को, फिर से ग्रहण कर रहा था मैं।। [...]

क्या बात है!

चीखों में बदली हैं बातें संगीत बना है शोर कुछ शांत अगर मिल जाए तो क्या बात है जल रही है नदियाँ छूटी आंसुवों की डोर कोई तालाब भिगा जाए तो क्या बात है छाँव की रेत बिखरी थी कल तक अब पेड़ों की खबर [...]

page  1  of  7

ISM ERRANDS

OUR VIEWS